आयुर्वेद के विस्तार में ही पूरी मानवता की भलाई : नरेंद्र मोदी

0
156

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा है कि आयुर्वेद भारत की विरासत है जिसके विस्तार में पूरी मानवता की भलाई समाई हुई है।

उन्होंने कहा कि कोरोना के संक्रमण से भारत आज संभली हुई स्थिति में है तो इसमें पारंपरिक चिकित्सा पद्धति का बहुत बड़ा योगदान है जो आज अन्य देशों को भी समृद्ध कर रहा है।

प्रधानमंत्री ने पांचवे आयुर्वेद दिवस पर आयुर्वेद संस्थानों, जामनगर का आयुर्वेद अध्यापन एवं अनुसंधान संस्थान और जयपुर के राष्ट्रीय आयुर्वेद संस्थान को राष्ट्र को समर्पित करने के बाद अपने संबोधन में यह बातें कहीं।

उन्होंने कहा आयुर्वेद भारत की विरासत है जिसके विस्तार में पूरी मानवता की भलाई है। मोदी ने कहा कि कोरोना काल में पूरी दुनिया में आयुर्वेदिक उत्पादों की मांग तेजी से बढ़ी है और बीते साल की तुलना में इस साल सितंबर में आयुर्वेदिक उत्पादों का निर्यात करीब डेढ़ गुना बढ गया है।

उन्होंने कहा कि मसालों के निर्यात में भी इस दौरान काफी बढ़ोतरी दर्ज हुई है। प्रधानमंत्री ने कहा बीते साल की अपेक्षा इस साल सितंबर में आयुर्वेदिक उत्पादों का निर्यात लगभग डेढ़ गुना बढ़ गया है यही नहीं मसालों के निर्यात में भी काफी बढ़ोतरी दर्ज की गई है।

यह दर्शाता है कि दुनिया में आयुर्वेदिक समाधान और भारतीय मसालों पर विश्वास बढ रहा है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here