इंटरमीडिएट एवं हाई स्कूल के स्टूडेंटस के लिए योगी सरकार का महत्वपूर्ण कदम, पढ़े पूरी खबर

0
72

छात्र-छात्राओं को कौशल मिशन के अंतर्गत प्रशिक्षण देते हुए प्रशिक्षित किया जाएगा।

लखनऊ। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की ओर से जारी किए गए आदेशों के अंतर्गत इस साल 21000 छात्र-छात्राओं को कौशल मिशन के अंतर्गत प्रशिक्षण देते हुए प्रशिक्षित किया जाएगा। माध्यमिक शिक्षा विभाग एवं कौशल विकास मिशन के बीच इस संबंध में करार किया गया है, जिसके चलते यदि कोई छात्र कक्षा 10 अथवा 12 के बाद पढ़ाई नहीं करता है तो भी उसके पास रोजगार के लिए सर्टिफाइड कौशल उपलब्ध होगा।

उत्तर प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार छात्र-छात्राओं को प्रशिक्षित करने के लिए इस साल 21000 विद्यार्थियों को कौशल मिशन के अंतर्गत प्रशिक्षित करने जा रही है। इसके लिए माध्यमिक शिक्षा विभाग एवं कौशल विकास मिशन के बीच एक करार किया गया है। विद्यार्थियों के प्रशिक्षण के लिए चलाई जाने वाली प्रवीण योजना के अंतर्गत कौशल विकास मिशन के सर्टिफिकेट कोर्स को माध्यमिक विद्यालयों में पढ़ाई के दौरान ही संचालित किया जाएगा। यदि कोई छात्र कक्षा 10 अथवा कक्षा 12 के बाद आगे की पढ़ाई को जारी नहीं रखता है तो भी उसके पास रोजगार के लिए सर्टिफाइटिड कौशल उपलब्ध होगा। किन्हीं कारणों की वजह से हाईस्कूल एवं इंटरमीडिएट की पढ़ाई बीच में ही छोड़ देने वाले विद्यार्थियों को इससे बहुत सुविधा मिलेगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here