उत्तराखण्ड: प्रदेश में बढ़ते कोरोना केसों से सजग हुई सरकार, नई गाइडलाइन जारी

0
93

देहरादून। राज्य में बीते दो सप्ताह में एक हजार से ज्यादा मामले सामने आए हैं। बढ़ते संक्रमण के बीच सरकार भी अलर्ट मोड पर आ गई है। बताया जा रहा है कि सरकार के निर्देश पर स्वास्थ्य विभाग ने कोविड की गाइडलाइन (Uttarakhand Corona Guideline) जारी की है। जिसके बाद इन नियमों का पालन करना जरूरी है।

कोरोना गाइडलाइन में आईसीएमआर के जरूरी दिशा निर्देशों का पालन करने से जुड़े निर्देश दिए गए हैं। एनएचएम डायरेक्‍टर डाक्‍टर आर राजेश कुमार ने कुछ सलाह दी हैं। जो 9 बिंदूओं में जारी की गई है।

जिसके तहत अब सभी जिलों को संक्रमित मरीजों के सैंपल जीनोम सिक्‍वेंसिंग के लिए भेजने के लिए कहा गया है।
वहीं जिलाधिकारियों को आरटी-पीसीआर टेस्‍ट बढ़ाने के निर्देश दिए गए हैं।
फ्लू और सांस की शिकायत वालों के टेस्‍ट किए जाने की सलाह भी दी गई है।
वैक्सिनेशन ड्राइव में तेजी लाने के लिए कहा गया है।
सार्वजनिक जगहों पर सामाजिक दूरी का पालन, मास्‍क पहनना और हाथों को सेनिटाइज करने की जागरुकता बढ़ाई जाए।
आईसीयू बेड की उपलब्‍धता सुनिश्चित की जाएगी।
आक्सीजन प्‍लांट की क्रियाशीलता सुनिष्चित की जाए।
कोरोना के हल्‍के लक्षण वाले रोगियों को होम आइसोलेशन में रखकर निगरानी की जाए।
किसी जगह ज्‍यादा लोगों में बुखार फैल रहा तो उनकी तुरंत कोरोना जांच की जाए।

नेशनल हेल्थ मिशन के मिशन निदेशक डॉ. राजेश कुमार की तरफ से जारी गाइडलाइन में 5 सूत्रीय रणनीति जिसमें जांच, निगरानी, उपचार, टीकाकरण और कोविड-19 उपयुक्त व्यवहार का अनुपालन करने से जुड़े आदेशों को सुनिश्चित करने के लिए कहा गया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here