एसडीएम नकुड की आधी रात को छापेमारी से खनन माफियाओं में मचा हडकंप,

0
107

खलील मलिक
गंगोह। एसडीएम नकुड द्वारा आधी रात में अचानक दलबल के साथ की गई छापामारी से खामोशी के साथ बेधड़क किये जा रहे खनन माफियाओं में खलबली मच गई। प्रशासनिक अमले को देख कुछ लोग तो वहां से भाग निकले, जबकि एक ओवरलोड ट्रक सहित कुछ लोगों को पुलिस ने पकड़ लिया। ट्रक को सीज करने के साथ ही गिरफत में आये लोगो की पुलिस जांच कर रही है।
गंगोह कोतवाली क्षेत्र के गांव नाई मजरा सहित अन्य घाट पर खेत से रेत हटाने की अनुमति की आड में कुछ खननकर्ता पोकलेन और जेसीबी मशीन से खनन कर रहे हैं। यही नही रात के अंधेरे में ओवरलोड रेत भरकर वाहन निकाले जा रहे हैं। शनिवार की देर रात अचानक नकुड एसडीएम हिमांशु नागपाल पुलिस बल को साथ लेकर घाट पर पहुंच गए जिससे खननकर्ताओं में हडकंप मच गया। देर रात अचानक हुई इस कार्रवाई का देख वहां मौजूद कुछ लोग भाग निकले जबकि कुछ को पुलिस ने पकड़ लिया। मौके से एक ओवरलोड ट्रक और पकड़े गए लोगों को पुलिस कोतवाली ले आई। पोकलेन और जेसीबी मशीनों को रुकवा दिया गया। बता दें कि पहले भी नाईमजरा घाट अवैध खनन को लेकर चर्चाओं में रहा है। एसडीएम हिमांशु नागपाल ने बताया कि किसी भी कीमत पर मानकों के विपरीत खनन नहीं होने दिया जाएगा। इसके लिए तहसील एवं खनन विभाग की एक टीम बनाई गई है जो अनुमति वाले खेत की निशानदेही करेगी। यदि इसके बाद भी यमुना नदी या दूसरे स्थान पर कोई खनन करता पाया गया तो उसकी रिपोर्ट जिलाधिकारी को भेजी जाएगी। नियम के खिलाफ खनन करते पाए गए तो पट्टा निरस्त करने व पटटाधारकों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई अमल में लाई जाएगी। उन्होंने यह भी बताया कि जेसीबी और पोकलेन से रेत उठाया जा सकता है या नही इसके बारे में पता कर आगे की कार्रवाई की जा रही है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here