कल से टेस्ट सीरीज की शुरुआत, पिंक बॉल से विदेश में पहला डे-नाइट टेस्ट खेलेगा भारत

0
138

भारतीय कप्तान विराट कोहली और उनकी ‘निडर’ टीम गुरुवार को एडीलेड में शुरू होने वाले पहले दिन-रात्रि टेस्ट के लिए प्लेइंग इलेवन का एलान कर चुका है। दूसरी ओर चोटों से जूझ रहा ऑस्ट्रेलिया भी गुलाबी गेंद के क्रिकेट में अपने दबदबे को बरकरार रखने के लिए पूरी ताकत लगा देगा। साल 2020 का अंत इस सीरीज से बेहतर कुछ नहीं हो सकता था। दूधिया रोशनी में खेले जाने वाले पहले टेस्ट में कोहली की शानदार बल्लेबाजी का सामना स्टीव स्मिथ की रन जुटाने की निरंतरता से होगा, जिसमें चेतेश्वर पुजारा के क्रीज पर टिके रहने की जिद को युवा मार्नस लाबुशेन चुनौती देंगे। दोनों टीमों के तेज गेंदबाज गुलाबी गेंद से गोधूलि बेला में बल्लेबाजों के दिमाग में संशय पैदा कराना चाहेंगे। मैच भारतीय समयानुसार सुबह साढ़े नौ बजे शुरू होगा।

आमने-सामने की टक्कर
‘जोश हेजलवुड बनाम मोहम्मद शमी’ मुकाबला भी काफी रोमांचक होगा जबकि पैट कमिंस के बाउंसर का जवाब जसप्रीत बुमराह अपने यॉर्कर से देना चाहेंगे। ईशांत शर्मा जैसा अनुभवी तेज गेंदबाज भारतीय टीम में शामिल नहीं है तो वहीं ऑस्ट्रेलियाई लाइन-अप को अपने स्टार डेविड वार्नर की कमी खलेगी, जिससे दोनों टीमें मजबूती के हिसाब से बराबरी पर ही दिखती हैं। हालांकि ऑस्ट्रेलियाई टीम को ज्यादा दिन-रात्रि टेस्ट खेलने का अनुभव है और उसे घरेलू परिस्थितियों का फायदा निश्चित रूप से मिलेगा। दिन-रात्रि टेस्ट मैच की अपनी खासियत है जिसमें बल्लेबाजों के पहले सत्र में हावी होने की उम्मीद होती है जबकि जब सूरज छिप जाता है तो गेंदबाजों की तूती बोलती है क्योंकि गुलाबी कूकाबूरा की रफ्तार तेज हो जाती है।

टीम इंडिया ने घोषित की प्लेइंग इलेवन
एक दिन पहले ही भारतीय टीम ने अपनी प्लेइंग इलेवन घोषित कर दी। शुरू से ही ओपनिंग जोड़ी, विकेटकीपर और तीसरे सीमर पर सस्पेंस बरकरार था, जिससे अब पर्दा उठ गया। ईशात शर्मा की गैरहाजिरी में जसप्रीत बुमराह और मोहम्मद शमी का साथ देने के लिए उमेश यादव को चुना गया है। अनुभवी पेसर ईशांत महान बल्लेबाज सचिन तेंदुलकर के बाद पांच बार ऑस्ट्रेलिया का दौरा करने वाले दूसरे भारतीय क्रिकेटर बन सकते थे, लेकिन चोट ने उन्हें सीरीज से बाहर कर दिया, उन्होंने पिछले दौरे पर 68 प्रतिशत ऑस्ट्रेलियाई विकेट हासिल किए थे।

उमेश दूसरे अभ्यास मैच में नहीं खेले थे, लेकिन पहले प्रैक्टिस मैच में उन्होंने चार विकेट लिए थे। केएल राहुल को प्लेइंग इलेवन में जगह नहीं मिली। शुभमन गिल भी बाहर है। मयंक अग्रवाल और पृथ्वी शॉ की जोड़ी सलामी बल्लेबाजी का मोर्चा संभालेगी। दूसरे अभ्यास मैच में शुभमन गिल ने बेहतरीन बल्लेबाजी की थी। पिंक बॉल से दूसरी पारी में अर्धशतक जड़ा था। इससे पहले उन्होंने बांग्लादेश के खिलाफ एकमात्र डे-नाईट टेस्ट भी खेला था, लेकिन उन्हें प्लेइंग इलेवन में जगह नहीं मिली।

भले ही ऋषभ पंत ने दूसरे अभ्यास मैच में पिंक बॉल से ताबड़तोड़ शतक जड़ा हो, लेकिन ऋधिमान साहा ही पहली पसंद बने। वह कल से शुरू हो रहे मैच में विकेट के पीछे जिम्मेदारियां निभाते नजर आएंगे। ऑस्ट्रेलियाई पिच पर कुशल विकेटकीपर की आवश्यकता होती है, चयन का आधार बल्लेबाजी से ज्यादा कीपिंग होगी। तीन पेसर के अलावा स्पिन की बागडोर अकेले रविचंद्रन अश्विन संभालेंगे।

दोनों टीम इस प्रकार है
टीम इंडिया की प्लेइंग इलेवन: मयंक अग्रवाल, पृथ्वी शॉ, विराट कोहली (कप्तान), अजिंक्य रहाणे (उपकप्तान), चेतेश्वर पुजारा, हनुमा विहारी, ऋधिमान साहा, रविचंद्रन अश्विन, उमेश यादव, मोहम्मद शमी और जसप्रीत बुमराह

ऑस्ट्रेलिया अपने अंतिम 11 की घोषणा टॉस के दौरान ही करेगा।
ऑस्ट्रेलिया : टिम पेन (कप्तान और विकेटकीपर), जो बर्न्स, पैट कमिंस, कैमरन ग्रीन, मार्कस हैरिस, जोश हेजलवुड, ट्रेविस हेड, मोइजेस हेनरिक्स, मार्नस लाबुशेन, नाथन लियोन, माइकल नेसेर, जेम्स पैटिनसन, स्टीव स्मिथ, मिशेल स्टार्क, मिशेल स्वेपसन, मैथ्यू वेड।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here