कांग्रेस के बाद भाजपा ने भी चलाया अनुशासन का चाबुक, वीर सिंह एवं दिनेश रावत समेत 13 को 6 वर्ष के लिए किया निष्कासित

0
101

देहरादून। शनिवार का दिन सत्ताधारी भाजपा सहित कांग्रेस के भी कई कार्यकर्ताओं को भारी पड़ा है। जा सुबह को कांग्रेस पार्टी द्वारा अपने कई नेताओं को पार्टी विरोधी गतिविधियों में सम्मिलित होने के आरोप में पार्टी से निष्कासित कर दिया गया। वहीं दोपहर बाद सत्ताधारी भारतीय जनता पार्टी ने भी अनुशासन का चाबुक चलाया है। भाजपा ने पार्टी विरोधी गतिविधियों में संलिप्त कार्यकर्ताओं को पार्टी की प्राथमिक सदस्यता से 6 सालों के लिए निष्कासित करने का आदेश जारी कर दिया है । जिसमें बीजेपी महानगर क्षेत्र के कुल 13 कार्यकर्ताओं के नाम हैं।

निष्कासन पत्र

भाजपा के महानगर अध्यक्ष सीताराम भट्ट ने महानगर क्षेत्र के विभिन्न विधानसभाओं में पार्टी विरोधी गतिविधियों में संलिप्त और पार्टी के घोषित प्रत्याशी के विरुद्ध चुनाव लड़ने वाले कार्यकर्ताओं के खिलाफ अनुशासनात्मक कार्यवाही करते हुए उन्हें पार्टी के विभिन्न पदों से मुक्त कर दिया है। साथ ही ऐसे कार्यकर्ताओं को पार्टी की प्राथमिक सदस्यता से 6 सालों के लिए निष्कासित करने का आदेश जारी कर दिया है।

इन कार्यकर्ताओं को किया निष्कासित,

विधानसभा डोईवाला से
गजेंद्र पंवार पूर्व जिला महामंत्री भाजपा,
राजेंद्र पंवार,
मुकेश कंडवाल,
उमेश पुंडीर,

धर्मपुर विधानसभा से

निर्दलीय चुनाव लड़ रहे प्रदेश कार्यकारिणी के पूर्व सदस्य वीर सिंह पवार,
गिरिराज उनियाल,
सौरभ उनियाल,
विनोद रावत,
राजेंद्र चौहान,
गणेश उनियाल,
सूरज मेहरा,
अव्वल सिंह बिष्ट,

एवं कैंट विधानसभा से
निर्दलीय चुनाव लड़ रहे दिनेश रावत के नाम शामिल हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here