चंडीगढ़ नगर निगम चुनाव में सबसे बड़ी पार्टी बनी आप, भाजपा को नुकसान तो कांग्रेस भी फायदे में

0
162

चंडीगढ़। चंडीगढ़ नगर निगम के सभी 35 वार्डों पर 24 दिसम्बर को हुए चुनाव के नतीजे आज सोमवार को आ गए हैं। जिनमें आम आदमी पार्टी जबरदस्त बढ़त लेते हुए 14 सीटों पर काबिज हो गई है। दूसरे नंबर पर भाजपा को 12 सीटें मिली हैं। वहीं 8 सीटें लेकर कांग्रेस तीसरे नंबर पर आई है। हालांकि कांग्रेस पिछली बार के मुकाबले दोगुनी सीटें जीतने में कामयाब रही हैं। साथ ही कांग्रेस ने अपने मत प्रतिशत में भी काफी अच्छा इजाफा किया है।

चंडीगढ़ नगर निगम में कुल 35 वार्ड हैं जिनमें से 14 सीटें जीतकर आम आदमी पार्टी सबसे सबसे बड़ी पार्टी बनकर उभरी है। बीजेपी 9 सीटों के नुकसान के साथ दूसरे नंबर पर, तो कांग्रेस 4 सीटों पर फायदे के साथ तीसरे नंबर पर रही है। पंजाब में अगले साल होने वाले विधानसभा चुनावों को देखते हुए यह चुनाव सभी पार्टियों के लिए खास माना जा रहा था. चंडीगढ़ नगर निगम के कुल 35 वार्ड में 24 दिसंबर को वोटिंग हुई थी. इन वार्ड में कुल 203 उम्मीदवार चुनाव लड़े थे।

चंडीगढ़ नगर निगम चुनावों में आम आदमी पार्टी ने शानदार प्रदर्शन किया है. इस चुनावों में दिलचस्प नतीजे आए हैं. कांग्रेस पार्टी ने सबसे ज्यादा वोट प्रतिशत हासिल किया है. कांग्रेस को 29.98% वोट मिले हैं, जबकि सबसे ज्यादा सीट हासिल करने वाली आम आदमी पार्टी का मत प्रतिशत 27.07% है. भाजपा का मत प्रतिशत दूसरे नंबर पर 29.03% तो वहीं पार्टी ने सीटें भी दूसरे नंबर की जीती हैं. हालांकि पिछले चुनावों में भाजपा को 26 में 21 सीटें मिली थीं और अब की बार परिसीमन के बाद 35 सीटों में से भाजपा महज 12 सीटें जीत पाई है।

यदि वोट शेयर की बात करें तो कांग्रेस पहले नंबर पर है. वोट शेयर के मुताबिक, AAP को 27.26 फीसदी, बीजेपी को 28.96 फीसदी और कांग्रेस को लगभग 30 (29.98 फीसदी) वोट मिले हैं. इसी के साथ इस बार कांग्रेस ने 8 सीटें जीती हैं, जबकि 2016 के निगम चुनाव में उसे चार सीटें मिली थीं. हालांकि, तब निगम में 35 की जगह 26 ही सीटें हुआ करती थीं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here