प्रतिबंध के चलते कार्तिक पूर्णिमा पर हरकी पौडी पर स्नान नहीं कर सके बाहरी श्रद्धालु

0
75

सीमित संख्या में स्थानीय श्रद्धालुओं ने ही हरकी पौड़ी पर किया गंगा स्नान

आज कार्तिक पूर्णिमा के अवसर पर हरकी पौड़ी पर सीमित संख्या में श्रद्धालुओं ने गंगा स्नान किया। वहीं, जिला प्रशासन की ओर से बॉर्डर को सील किया गया था। जिसके चलते दूसरे जिलों व अन्य राज्यों से आने वाले श्रद्धालु स्नान नहीं कर पाये।

कोविड-19 की वजह से इस बार प्रतिबंध के चलते हरकी पौड़ी क्षेत्र में गंगा स्नान करने वाले श्रद्धालुओं की भीड़ नजर नहीं आई। स्नान करने वाले श्रद्धालुओं ने सोशल डिस्टेंस का पालन भी किया। हरकी पैड़ी सहित मुख्य घाटों में पुलिस का सख्त पहरा रहा। सीमित संख्या में स्थानीय लोग गंगा स्नान कर वापस लौटते रहे।

जिले की महत्वपूर्ण नारसन सीमा पर सबसे अधिक पुलिसकर्मियों की ड्यूटी रही। यहां दिल्ली और अन्य राज्यों से आने वाले करीब 5 हजार से ज्यादा यात्रियों को पुलिस ने लौटा दिया।

श्यामपुर चिड़ियापुर की सीमा से आने वाले 150 से अधिक वाहन और 1000 से अधिक लोगों को वापस भेजा गया।

श्यामपुर में एक प्लाटून पीएसी और और सप्तऋषि में चौकी के अलावा पीएसी तैनात रही। उधर हरकी पैड़ी पर कल शाम को ही पुलिस फोर्स की ड्यूटी लगा दी गई थी। ताकि कोई भी व्यक्ति हरकी पैड़ी न पहुंच सकें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here