बडो़ंवाला क्षेत्र में नहीं बनने देंगे कब्रिस्तान: प्रेम भण्डारी

0
132

देहरादून। सोमवार को बड़ोंवाला, आर्केडिया ग्रांट शिमला रोड क्षेत्र के लोगों के एक प्रतिनिधिमंडल ने महापौर सुनील उनियाल गामा एवं अपर जिलाधिकारी प्रशासन बीर सिंह बुदियाल से मिलकर कब्रिस्तान नही बनाने की मांग की।
प्रतिनिधिमंडल ने कहा की कि सत प्रतिशत हिंदू बहुल आबादी में क्रिश्चियन कब्रिस्तान हेतु जमीन आवंटित कर दी गई है जबकि सहसपुर विधानसभा में मुश्किल से गिने चुने क्रिश्चियन परिवार रहते हैं। नागरिकों की मांग है कि इस क्षेत्र में जनता पिछले 15 वर्षों से सार्वजनिक सरकारी चिकित्सालय बनाने की मांग कर रही है। युवा खिलाड़ियों के लिए खेल का मैदान नहीं है कोई सामुदायिक केंद्र नहीं है।

उसके लिए सरकार के पास कोई भी सरकारी जमीन नहीं है। दूसरी तरफ जिस समुदाय के केवल तीन परिवार निवास करते हैं उनके लिए कब्रिस्तान हेतु जमीन के लिए शासनादेश किया गया है जो घनी आबादी के बीच है। आज मांग की गई कि इस आवंटन को रद्द किया जाए इस प्रकरण की पूरी जांच की जाए नहीं तो क्षेत्र की लगभग 5000 जनता आंदोलन को बाध्य होगी यदि इसमें तत्काल कोई जनहित का निर्णय नहीं हुआ तो धरना भी प्रारंभ किया जा सकता है। सरकार से मांग है तत्काल जनहित में उचित निर्णय लिया जाए । क्रिश्चियन समुदाय को कब्रिस्तान हेतु अनियंत्रित स्थान पर भूमि आवंटित की जाए जो यह आबादी के बीच षड्यंत्र हुआ है। प्रतिनिधिमंडल में नामित पार्षद विनय रावत, जीवन रावत, प्रेम भंडारी, खेम चंद गुप्ता चंद्रशेखर जोशी दिनेश ज्यादा एडवोकेट जीवन अधिकारी देवेंद्र सामंत पूर्व प्रधान छोटेलाल जी एवं चंद्र शेखर सामंत जी हर्ष पाल रावत जी आदि लगभग 40 वरिष्ठ नागरिकों का प्रतिनिधिमंडल था। अपर जिलाधिकारी प्रशासन ने शीघ्र जांच कर जनहित में निर्णय लेने का आश्वासन किया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here