भाजपा सांसद का किसानों के लिए ट्वीट, किसानों का दर्द समझना चाहिए

0
56

भाजपा के ही दूसरे सांसद सुब्रह्मण्य स्वामी ने भी ट्वीट को रिट्वीट कर समर्थन जताया

कृषि कानूनों के खिलाफ उत्तर प्रदेश के मुजफ्फरनगर जिले के जीआईसी मैदान में रविवार को हुई किसान महापंचायत के बीच प्रदर्शनकारी किसानों को भारतीय जनता पार्टी के सांसद वरुण गांधी का साथ मिला।

भले ही केंद्र सरकार और पार्टी कृषि कानूनों की वापसी से इंकार रहे हैं, मगर भाजपा सांसद वरुण गांधी किसानों के पक्ष में आवाज उठाते दिखे।

किसान महापंचायत के इतर रविवार को बीजेपी सांसद वरुण गांधी ने किसानों का दर्द समझने की अपील की है और कहा है कि वे अपने ही देश का खून हैं और हमें उनका दर्द समझना होगा।

पीलीभीत से भाजपा सांसद वरुण गांधी ने अपने आधिकारिक ट्विटर अकाउंट से ट्वीट कर कहा, ‘मुजफ्फरनगर में प्रदर्शन के लिए लाखों किसान जुटे हैं। वो हमारा ही खून हैं।

हमें उनके साथ फिर से सम्मानजनक तरीके से जुड़ने की जरूरत है। उनका दर्द समझें, उनका नजरिया देखें और जमीन तक पहुंचने के लिए उनके साथ काम करें।’ वरुण ने इसके साथ ही एक वीडियो भी ट्वीट किया है, जो किसान महापंचायत का बताया जा रहा है।

वरुण गांधी के इस ट्वीट को भाजपा के ही एक और सांसद सुब्रमण्यम स्वामी ने भी रीट्वीट किया है। वरुण का यह बयान इसलिए भी मायने रखता है, क्योंकि भारतीय जनता पार्टी कृषि कानूनों का पूरजोर समर्थन कर रही है।

एक ओर जहां बीजेपी और मोदी सरकार कृषि कानूनों को डिफेंड कर रही है, वहीं किसान संगठन इसका विरोध कर रहे हैं और काला कानून बताकर इसकी वापसी की मांग पर टिके हैं। वरुण गांधी के ट्वीट से यह स्पष्ट हो गया है कि उनका स्टैंड किसानों के हित में ही है।

बता दें कि रविवार को मुजफ्फरनगर में आयोजित किसान पंचायत में देशभर से किसानों का सैलाब इसमें हिस्सा लेने के लिए पहुंचा था। इस बीच मंच से ही किसान नेता राकेश टिकैत ने हुंकार भरते हुए कहा कि जब तक कानूनों की वापसी नहीं होती, तब तक किसानों की घर वापसी नहीं होगी। और वह भी कृषि कानूनों की समाप्ति के बाद ही अपने घर जायेंगे। ज्ञात हो कि राकेश टिकैत किसान आंदोलन शुरू होने के बाद रविवार को पहली बार मुजफ्फरनगर पहुंचे थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here