भारत सहित अन्य विदेशी नागरिकों को ढाल के तौर पर इस्तेमाल कर उनकी जान जोखिम में डाल रहा है यूक्रेन : पुतिन

0
77

पुतिन का दावा- यूक्रेन सेना ने 3 हज़ार भारतीयों सहित अन्य कई देशों को बंधक बना

रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन ने कहा है कि “यूक्रेन विदेशी नागरिकों को बन्धक बनाकर उन्हें ढाल के तौर पर प्रयोग कर रही है।” पुतिन ने दावा किया कि यूक्रैन ने 3 हज़ार भारतीयों को बनाया था जिन्हें रूस की सेना ने रिहा करावाया है।” उन्होंने कहा कि “चीन के लोगों को भी यूक्रेन ने बन्धक बनाया था।” पुतिन ने यह दावा सिक्योरिटी काउंसिल की बैठक के बाद किया।

साथ ही व्लाहदीमीर पुतिन ने कहा कि “यूक्रेन के रिहाइशी इलाक़ों में रूस की तरफ़ से कोई सैन्य कार्यवाही नहीं की जा रही है। रूसी राष्ट्रपति पुतिन ने दावा किया कि “यूक्रेन की सेना विदेशियों को यूक्रेन से बाहर नहीं जाने दे रही है।” उन्होंने कहा कि “रूस की सेना ने विदेशी नागरिकों को यूक्रेन से निकालने में मदद की है।” पुतिन ने कहा कि “यूक्रेन विदेशी नागरिकों की निकासी में जानबूझकर देरी करने की कोशिश कर रहा है।” साथ ही उन्होंने आरोप लगाया कि “यूक्रेन डोनेट्स्क और लुहांस्क की आबादी के साथ अमानवीय व्यवहार करता रहा है l

पुतिन का कहना है कि “डोनेट्स्क व लुहांस्क के लोगों को तंबुओं के अन्दर रखा जाता है…हम डोनट्स व लुहान्स्क के लोगों के लिए शान्तिपूर्ण जीवन सुनिश्चित करने के लिये कुछ भी करेंगे उन्हें शिक्षित करके स्वतन्त्र और सम्मानजनक जीवन जीने हेतु समर्थन देंगे, रूसी सेना के सभी परिवार के सदस्यों और मरने वाले सैनिकों को सम्मान मिलेगा।”

आपको बता दें कि बृहस्पतिवार को ही यूक्रेन के राष्ट्रपति जेलेंस्की ने रूसी राष्ट्रपति पुतिन कहा कि “रूस अपनी सेना हमारी ज़मीन से हटा ले..यदि रूस हमारी ज़मीन से नहीं जाना चाहता है तो फ़िर पुतिन को मेरे साथ बातचीत के लिए टेबल पर बैठना चाहिए।लेकिन 30 मीटर की दूरी पर नहीं…जैसे मैक्रोन,स्कोल्ज़ के साथ बैठकर बातचीत हुई थी।” यूक्रेन के राष्ट्रपति ने कहा कि “मैं एक पड़ोसी हूँ, मैं काटता नहीं हूँ, मैं एक सामान्य आदमी हूँ..मेरे साथ बैठो, मुझ से बात करो..तुम को किस बात का डर है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here