मंदिरों से शिवलिंग एवं चिमटे चुराने वाला तारा सिंह राणा गिरफ़्तार

0
149

पकड़े गए अभियुक्त ने जो वजह बताई उससे आप हैरान रह जायेंगे

द्वाराहाट। पुलिस ने द्वाराहाट के मंदिर से चुराया गया शिवलिंग का हिस्सा बरामद कर आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है। 24 घंटे के अंदर मामले का पर्दाफाश करने पर कुमांऊ परिक्षेत्र के आई जी ने पुलिस टीम को 5000 रूपये का पुरस्कार देने की घोषणा की है। खास बात यह है कि अभियुक्त बीएससी पास 24 वर्षीय युवक है। 
बता दें कि बुधवार सुबह पुरातात्विक महत्व के प्राचीन महामृत्युंजय मन्दिर के भैरव मंदिर से शिवलिंग का ऊपरी हिस्सा क्षतिग्रस्त कर चोर अपने साथ ले गया था। इस घटना से वहाँ काफी आक्रोश व्याप्त हो रहा था। मामले की संवेदनशीलता को देखते हुए एसएसपी पंकज भट्ट ने पुलिस टीम को त्वरित जांच करने तथा आरोपियों को पकड़ने के लिए लगा दिया। 

पुलिस को अभियुक्त तारा सिंह राणा उम्र- 24 वर्ष पुत्र नारायण राणा ग्राम- चितैलीगाड़, पो0 चित्रेश्वर, द्वाराहाट ने घटना  के पीछे जो कारण बताया उससे हर कोई हैरानी में पड़ गया। अभियुक्त ने बताया कि जब वह 11वीं -12वीं में पढ़ता था, तब से पैरों में काफी दर्द रहता था। स्थानीय मान्यता के अनुसार व पूछ आदि करने पर बताया गया कि भैरव बाबा की पूजा करके आपका दर्द सही हो जाएगा तब से मैं लगातार भैरव मंदिर में पूजा पाठ किया करता था। उसके उपरांत भी मेरी समस्या का हल नहीं हुआ और ज्यादा तबीयत बिगड़ने लगी। समस्या के निदान नहीं होने से मन में रोष उत्पन्न हुआ और भैरव मंदिर के मूर्ति को फेंक देने का मन बनाया। रोष में आकर मेरे द्वारा एक जगह से भैरव मन्दिर की मूर्ति व चिमटे चोरी तथा दूसरे मन्दिर से शिवलिंग का ऊपरी भाग तोड़कर लैट्रिन के पिट में डाल दिया। 
एसएसपी अल्मोड़ा के सख्त निर्देश पर मामले में द्वाराहाट क्षेत्र मे लगे कैमरों के वीडियो को चैक किया गया तथा समस्त मंदिरों के आस-पास के रास्तों को चैक व पूछताछ करते हुए पुरातत्व अधिकारियों/संरक्षक से पूछताछ करने के उपरान्त सभी कड़ियों को जोड़ने के बाद सीसीटीवी फुटेज में देखें गये संदिग्ध की गतिविधियों पर नजर रखी गई। 
पूरी पुलिस टीम ने अनेक लोगों से  पूछताछ की तथा द्वाराहाट पुलिस एवं एसओजी की संयुक्त टीम द्वारा मिलकर चप्पे-चप्पे पर पुलिस द्वारा चैकिंग/पूछताछ एवं कैम्प के फलस्वरूप आरोपी अपने गाॅव में अपने ही घर पर मिल गया।
वीडियो फुटेज में दिखे कपड़े, जूते, बैग को वीडियो के आधार पर मैच किये जाने पर आरोपी की पहचान हो गई। पुलिस ने उसे हिरासत में लेकर पूछताछ की तो उसने अपना जुर्म कबूल कर लिया। पूछताछ पर तारा सिंह ने बताया  कि वह 9 फरवरी को को  गाॅव से 02 किलोमीटर आगे शिवालय मन्दिर से भैरव बाबा की मूर्ति एवं 03 चिमटे चोरी करने के बाद मूर्ति को गाॅव के एक स्कूल के पास पुल के नीचे छिपा दिया। 

10 फरवरी की सुबह बाल कटाने के बहाने से द्वाराहाट बाजार आया तथा मन्दिर में दर्शन कर माथा टेकने के उपरान्त भैरव मन्दिर में शिवलिंग के ऊपरी भाग को जोर लगाकर तोड़कर बैग में रखा और गांव के स्कूल के पास छुपा कर अपने घर चला गया।  बाद में घर से दौड़ने के बहाने से थैला लेकर मूर्ति/शिवलिंग का ऊपरी भाग एवं 03 चिमटे लेकर मेन रोड से चौखुटिया क्षेत्र में बाखली गाॅव के पुराने स्कूल के लैट्रिंग के पिट के अन्दर टैंक में डाल दिया। पुलिस ने अभियुक्त  निशानदेही पर शिवलिंग का हिस्सा और तीनों चिमटे बरामद कर लिये। 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here