राबिया सैफी के हत्यारों के खिलाफ कार्यवाही की मांग को लेकर राहुल प्रियंका गांधी सेना का प्रदर्शन

0
114

देहरादून। दिल्ली में सिविल डिफेंस में कार्य करने वाली राबिया सैफी की बलात्कार के बाद नृशन्स तरीके से की गई हत्या के मामले के दोषियों को बचाए जाने का आरोप लगाते हुए विकासनगर में राहुल प्रियंका गांधी सेना कांग्रेस अल्पसंख्यक प्रकोष्ठ ने विकास नगर में तिलक भवन के सामने मोमबत्ती जलाकर नारेबाजी करते हुए सीबीआई जांच कराने एवं दोषियों को फांसी देने की मांग को लेकर नारेबाजी करते हुए प्रदर्शन किया।

राहुल प्रियंका गांधी सेना के कार्यकर्ता राबिया सैफी के हत्यारों को फांसी दो फांसी दो, बलात्कार के दोषियों को फांसी दो, दोषियों को बचाने का प्रयास बंद करो, कानून व्यवस्था ठीक करो, बहन बेटियों पर अत्याचार बंद करो के नारे लगा रहे थे।

इस मौके पर प्रदर्शन के बीच वक्ताओं ने कहा कि राबिया की नृशन्स हत्या और उसके साथ हुए बलात्कार की जिम्मेदार संबंधित सरकारें हैं, गुंडा तत्वों को कानून का कोई डर नहीं रह गया है, देश में मां बहन बेटियां बिल्कुल असुरक्षित हो गई हैं। और इसका सबसे बड़ा कारण यह है कि एक विशेष विचारधारा के लोग बलात्कार पीड़िता का ही चरित्र हनन करने लग जाते हैं। वक्ताओं ने मांग की कि राबिया सैफी के प्रकरण की सीबीआई जांच की जाए, दोषियों को फांसी की सजा दी जाए और इस हत्याकांड के दोषियों को जो अधिकारी बचाने का प्रयास कर रहे हैं उनके खिलाफ भी सख्त से सख्त कार्यवाही की जाए।


वक्ताओं ने कहा कि आज का प्रदर्शन सांकेतिक प्रोटेस्ट है। यदि 1 सप्ताह के अंदर राबिया सैफी के दोषियों के विरुद्ध सीबीआई जांच को निर्देशित नहीं किया जाता तो राहुल प्रियंका गांधी सेना कांग्रेस चुप नहीं बैठेगी और लगातार सड़कों पर उतर कर मां बहनों की सुरक्षा करने में असमर्थ इस सरकार को उखाड़ फेंकने का काम करेंगी।

मोमबत्ती जलाकर प्रदर्शन करने वालों में राहुल प्रियंका गांधी सेना कांग्रेस के राष्ट्रीय प्रवक्ता भास्कर चुग, प्रदेश सचिव अनीता वर्मा, विधानसभा उपाध्यक्ष एवं अल्पसंख्यक प्रकोष्ठ के प्रभारी अफजल बैग, अल्पसंख्यक प्रकोष्ठ के विधानसभा अध्यक्ष मोहम्मद अकरम, सोशल मीडिया के प्रदेश प्रभारी विरेंद्र सिंह, मोहम्मद इस्लाम, शराफत अंसारी, मुकेश कुमार नसीम अहमद, मोहम्मद शाकिर, राजेश कुमार, दिनेश, राहुल, विजय, हसीन अहमद आदि मौजूद रहे

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here