राशन कार्ड धारकों को अब घर बैठे मिलेंगी ये सुविधाएं, सरकार ने लॉन्च किया है ये खास ऐप, जानिए पूरी जानकारी,

0
138

अगर आपके पास राशन कार्ड है तो अब आपको कोटा से जुड़ी तमाम जानकारियों के लिए पीडीएस सेंटर पर जाने की जरूरत नहीं पड़ेगी. राशन दुकान पर लाइन में लगने की झंझट भी खत्म हो जाएगी और आप जो जानकारी हासिल करना चाहते हैं, वह घर बैठे मिल जाएगी. सरकार ने इसके लिए एक विशेष सुविधा शुरू की है. इस सुविधा का लाभ लेने के लिए सबसे जरूरी यह है कि आपके पास स्मार्ट फोन होना चाहिए. अगर आपके पास स्मार्ट फोन नहीं हो तो आप अपने परिवार के किसी सदस्य के स्मार्ट फोन से यह काम कर सकते हैं.

कोरोना महामारी को फैलने से रोकने के लिए लगाए गए लॉकडाउन के दौरान केंद्र सरकार ने वन नेशन वन राशन कार्ड योजना की शुरुआत की थी. इसका मकसद था कि लॉकडाउन के समय लोगों को राशन मिलने में कोई दिक्कत न हो और उन्हें भोजन के लिए परेशान न होना पड़े. इसी योजना के तहत सरकार ने एक ऐप लॉन्च किया है. आपको गूगल प्ले स्टोर से ऐप को डाउनलोड करना होगा. इस ऐप को लॉन्च करने के पीछे का मकसद है कि प्रवासी श्रमिक आसानी से दूसरे शहर में सार्वजनिक वितरण प्रणाली के तहत बांटे जा रहे अनाज को पा सकें.


ऐप का नाम है मेरा राशन (Mera Ration). इसके जरिए आप सरकारी राशन दुकान गए बगैर तमाम जानकारी हासिल कर सकते हैं.

कैसे इस्तेमाल करें इस ऐप को

– आपको सबसे पहले गूगल प्ले स्टोर पर जाना होगा.
– प्ले स्टोर पर आप Mera Ration ऐप सर्च करें और डाउनलोड करें.
– Mera Ration ऐप को डाउनलोड करने के बाद इंस्टॉल करें और अपनी जानकारी डाल कर खुद को रजिस्टर्ड करें.
– रजिस्ट्रेशन के बाद आप यहां पर मिलने वाली तमाम सुविधाओं का लाभ उठा सकते हैं.

क्या हैं इस ऐप के फायदे

आधार नंबर या राशन कार्ड के जरिए आसानी से लॉग-इन की सुविधा.
– Mera Ration ऐप से आपको राशन दुकान की बिल्कुल सही जानकारी मिलेगी.
– राशन कार्ड धारक यहां पर सुझाव भी दे सकते हैं.
– कब राशन आ रहा है और कोटा का कितना अनाज मिलेगा, इसकी जानकारी भी आप ऐप से प्राप्त कर सकते हैं.
– फिलहाल यह ऐप हिंदी और अंग्रेजी भाषा को सपोर्ट करता है. आने वाले समय में 14 भारतीय भाषाओं में इस पर सुविधा मिलेगी.
– रोजगार की तलाश में एक शहर से दूसरे शहर जाने वाले प्रवासी श्रमिकों को इस ऐप से राशन प्राप्त करने में सबसे ज्यादा सहूलियत होगी.
– राशन वितरण प्रणाली में आएगी पारदर्शिता.
– प्रवासी श्रमिकों को यह भी पता चल पाएगा कि उनके लोकेशन के सबसे करीब कौन सी राशन दुकान है.

राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा अधिनियम के तहत सरकार सार्वजनिक वितरण प्रणाली के माध्यम से 81 करोड़ से अधिक लोगों को 1-3 रुपये प्रति किलोग्राम पर ज्यादा सब्सिडी के साथ अनाज देती है. वन नेशन वन राशन कार्ड योजना से देशभर के 32 राज्य व केंद्र शासित प्रदेश जुड़ चुके हैं और बाकी राज्यों में भी यह योजना जल्द लागू हो जाएगी. वन नेशन वन राशन कार्ड योजना देशभर में लागू होने की समयसीमा 31 मार्च 2021 है, लेकिन दिल्ली, पश्चिम बंगाल, छत्तीसगढ़ और असम में अब तक यह योजना लागू नहीं हो पाई है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here