होम बेस्ड टेस्टिंग किट से घर बैठे स्वयं कर सकेंगे कोरोना टेस्ट, ICMR ने दी मंजूरी

0
101

नई दिल्ली। कोरोना महामारी के बीच आईसीएमआर (ICMR)ने एक होम टेस्टिंग किट को मंजूरी दी है। इस किट के जरिये घर में ही नाक से कोरोना जांच के लिए सैंपल ले सकते हैं। होम टेस्टिंग सिर्फ सिम्प्टोमेटिक मरीजों के लिए है। आईसीएमआर (ICMR) ने इसके इस्‍तेमाल का तरीका बताया है।

भारतीय चिकित्सा अनुसंधान परिषद (ICMR) ने कोविड के लिए होम बेस्ड टेस्टिंग किट को मंजूरी दे दी है। यह एक होम रैपिड एंटीजन टेस्टिंग किट है। इसका प्रयोग कोरोना के हल्के लक्षण या संक्रमित व्यक्ति के संपर्क में आए हुए लोग कर सकते हैं। आइसीएमआर (ICMR) के अलावा डीसीजीआई (DGCI) ने भी होम बेस्ड टेस्टिंग किट को देश में बिक्री की मंजूरी दी है। लेकिन, यह टेस्टिंग किट फिलहाल बाजार में उपलब्ध नहीं होगी, इसे व्यापक रूप से उपलब्ध होने में कुछ समय लगेगा। भारत में केवल एक कंपनी को इसे बनाने की मंजूरी दी गई है, जिसका नाम मायलैब डिस्कवरी सॉल्यूशंस लिमिटेड है।

भारतीय चिकित्सा अनुसंधान परिषद (ICMR) ने कोरोना संक्रमण का पता लगाने के लिए घरों में अंधाधुंध रैपिड एंटीजेन टेस्ट जांच नहीं करने की सलाह दी। आईसीएमआर (ICMR)के मुताबिक लैब से जिन लोगों के संक्रमित होने की पुष्टि हुई हो, उनके निकट संपर्क में आने वाले लोगों और जिनमें संक्रमण के लक्षण नजर आ रहे हों, सिर्फ उन्हीं लोगों की रैपिड किट से जांच की जानी चाहिए।आइसीएमआर ने कहा कि रैपिड एंटीजेन टेस्ट में पॉजिटिव पाए जाने वाले लोगों की दोबारा जांच कराने की जरूरत नहीं होगी। ऐसे लोगों को संक्रमित ही माना जाएगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here