26 नवम्बर को मजदूरों की देशव्यापी हड़ताल की सफलता को उत्तराखण्ड संयुक्त ट्रेड यूनियन संघर्ष समिति का एक दिवसीय कन्वेंशन सम्पन्न

0
86

देहरादून। उत्तराखण्ड संयुक्त ट्रेड यूनियन्स संघर्ष समिति का एक दिवसीय कन्वेंशन इंटक के अध्यक्ष पूर्व केबिनेट मंत्री हीरा सिंह बिष्ट की अध्यक्षता में सम्पन्न हुआ।
उक्त आशय की जानकारी सीटू के प्रांतीय सचिव लेखराज ने दी उन्होंने बताया कि इस अवसर पर तय किया गया कि 26 नवम्बर 2020 को होने वाली हड़ताल को सफल बनाने के लिए आज एक कन्वेंशन आयोजित किया गया।
जिसमे विभिन्न ट्रेड यूनियनों के प्रतिनिधियो ने हिस्सेदारी की और हड़ताल को सफल बनाने के लिए मंथन कर रणनीति बनाई। इस अवसर पर उन्होंने बताया कि कन्वेंशन में सीटू, एटक इंटक, एकटू, बैंक यूनियन, रक्षा संस्थानों, परिवहन से जुड़ी यूनियन के प्रतिनिधि उपस्थित थे।

इस अवसर पर इंटक के प्रदेश अध्यक्ष हीरा सिंह बिष्ट ने कहा कि मोदी सरकार द्वारा तीन श्रम कानून संसद में धींगामुश्ती से पास कर दिए है जिस कारण देश के मजदूरो पर चौतरफा हमला कर दिया है मजदूरो के अधिकार छीने जा रहे है और मजदूरों को गुलामी की ओर धकेला जा रहा है।

इस अवसर पर सीटू के प्रांतीय महामंत्री एम.पी.जखमोला सचिव लेखराज, एटक के प्रान्तीय महामंत्री अशोक शर्मा, एकटू के प्रांतीय महामंत्री के.के.बोरा, इंटक से ए.पी. अमोली, ऐटक के समर भंडारी, बैंक यूनियन के एस.एस.रजवार, गगन ककड़, आदि ने विचार व्यक्त किये सभी ने एक सुर में 26 नवम्बर की हड़ताल को सफल बनाने का संकल्प लिया इस अवसर पर इंटक के ए.पी.अमोली, ओ .पी सूदी ,युवा इंटक के अध्यक्ष गगन ककड़, पंकज क्षेत्री,आशीष, सीटू के भगवंत पयाल, रविन्द्र नौडियाल, मामचंद, राजकुमार, वीरेंद्र नेगी, अशोक चौधरी, सन्तोष सिंह, चित्रा गुप्ता भंडारी, के.पी चन्दोला, अश्वनी त्यागी, नीरज सिंह, टी.एम. तिवारी, एटक के ईश्वर पाल आदि उपस्थित थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here