प्रदेश में कांग्रेस को आज लग सकते है बड़े झटके, कई असंतुष्टों के यहां लगेगा समर्थकों का जमावड़ा

0
99

देहरादून। कांग्रेस द्वारा सोमवार को जारी की गई 11 प्रत्याशियों की दूसरी सूची के बाद देहरादून जिले की डोईवाला ऋषिकेश एवं कैंट विधानसभा सहित प्रदेश की अन्य कई विधानसभाओं में कांग्रेसी दावेदारों में गहरा असंतोष पनप गया है। कालाढूंगी सीट पर जहां महेश शर्मा ने अपने समर्थकों की महापंचायत बुलाई है तो वहीं दूसरी तरफ लालकुआं में भी पूर्व कैबिनेट मंत्री हरीश चंद्र दुर्गापाल ने अपने आवास पर समर्थकों की सभा बुलाई है इसी तरह लालकुआं से ही दूसरे दावेदार हरेंद्र बोरा ने भी अपने आवास पर समर्थकों की मीटिंग का आह्वान किया है। खुद पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत के टिकट के बाद रामनगर विधानसभा में भी इसी तरह के हालात सामने आ रहे हैं।

सूत्र बता रहे हैं कि रामनगर से रंजीत रावत अपना दावा छोड़ सल्ट विधानसभा जाने को तैयार नहीं हुए हैं। क्योंकि यदि ऐसा हुआ होता तो कल जारी सूची में सल्ट विधानसभा से रंजीत रावत का नाम भी आ गया होता। वहीं रामनगर नगर पालिका के चेयरमैन मोहम्मद अकरम भी चट्टान की तरह रंजीत रावत के समर्थन में खड़े होने का ऐलान कर चुके हैं। सूत्र बता रहे हैं कि रंजीत रावत भी रामनगर विधानसभा से निर्दलीय चुनाव में ताल ठोंक सकते हैं। जिससे रामनगर सीट हरीश रावत के लिए भी आसान नहीं है।

इसी प्रकार डोईवाला विधानसभा से मोहित उनियाल को प्रत्याशी घोषित करने के बाद बगावत होने के पूरे आसार हैं। टिकट की प्रबल दावेदार रही महिला कांग्रेस सेवा दल की प्रदेश अध्यक्ष हेमा पुरोहित के समर्थकों ने भी आज एक बैठक का आयोजन किया है जिसमें चुनाव लड़ने की घोषणा होने की प्रबल संभावना है

इसी प्रकार लालकुआं में पूर्व कैबिनेट मंत्री हरीश चंद्र दुर्गापाल ने कार्यकर्ताओं के बीच भावुक होकर महापंचायत बुलाई है साथ ही अपने सोशल मीडिया अकाउंट्स पर कार्यकर्ताओं को आह्वान करते हुए मार्मिक अपील की है। कांग्रेस की दूसरी लिस्ट में असंतुष्ट दावेदारों की संख्या बड़ी मात्रा में है। और समर्थक भी सूची जारी करने वाले आलाकमान को जमकर कोस रहे है। कुल मिलाकर आज कांग्रेस को प्रदेश में एक के बाद एक कई बड़े झटके लगने के आसार हैं। यदि लालकुआं में हरीश चंद्र दुर्गापाल निर्दलीय चुनाव लड़ने को तैयार हुए तो यह सीट कांग्रेस के लिए संकट बन जाएगी।

हरीश चंद्र दुर्गापाल ने ट्वीट कर क्षेत्रवासियों को दिया न्योता

देहरादून जिले की कैंट विधानसभा सीट पर भी बगावत के आसार उत्पन्न हो रहे हैं कैंट से दावेदारी जता रहे नगर निगम के पार्षद उत्तरांचल पंजाबी महासभा के महानगर अध्यक्ष कमल बोरा ने भी अपने समर्थकों की बैठक का आयोजन किया है जिसमें समर्थकों के साथ बदली परिस्थिति पर विचार किया जाएगा वही कैंट विधानसभा सीट से पंजाबी समाज को प्रत्याशी नहीं बनाए जाने पर उत्तरांचल सर्व समाज संगठन भी नाराज हो गया है।

ज्ञात रहे कि कैंट विधानसभा से पंजाबी समाज के तीन लोग टिकट मांग रहे थे। जिनमें सामाजिक कार्यकर्ता एवं कांग्रेस के वरिष्ठ नेता अभिनव थापर, उत्तरांचल पंजाबी महासभा की महिला महानगर अध्यक्ष कोमल बोहरा एवं कुछ ही दिनों पूर्व कैंट विधानसभा में सक्रिय होकर टिकट की दावेदारी जता रहे वैभव वालिया शामिल हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here