देहरादून: पटेल नगर पुलिस ने छात्रा पर फायरिंग की घटना का किया खुलासा, आरोपी युवक गिरफ्तार

0
140

देहरादून। राजधानी देहरादून में घटी नाबालिग छात्रा पर फायरिंग की घटना का पटेल नगर पुलिस ने खुलासा कर दिया है। छात्रा के पिता ने पटेल नगर थाने में शिकायत दर्ज कराई थी। शिकायत के अनुसार 29 नवंबर शाम को उसकी पुत्री ट्यूशन से घर के लिए आ रही थी कि रास्ते में एक युवक ने मेरी बेटी की स्कूटी रोक ली और उस पर फायर झोंक दिया। मेरी पुत्री ने पास के घर में घुसकर अपनी जान बचाई। फायर कर युवक भी मौके से फरार हो गया। शिकायत पर पुलिस ने घटना के बारे में उच्च अधिकारियों को को जानकारी देकर मामला दर्ज कर लिया और आरोपी की तलाश शुरू कर दी।
घटना की गम्भीरता को देखते हुये एसएसपी देहरादून द्वारा घटना के अनावरण हेतु आवश्यक आदेश निर्देश पारित करते हुये एसपी नगर सरिता डोभाल व एएसपी व सीओ सदर सर्वेश पवार के मार्गदर्शन व पर्यवेक्षण में प्रभारी निरीक्षक पटेलनगर के नेतृत्व में घटना के अनावरण एवं अभियुक्त की गिरफ्तारी के लिए अलग-अलग पुलिस टीमें गठित की गयी।

पुलिस टीम द्वारा पीड़ित लड़की एवं उसके पिताजी से अभियुक्त के हुलिये की जानकारी ली गई व घटनास्थल पर आस-पास लगे सीसीटीवी कैमरों की फ़ुटेज चेक करने पर पीडिता द्वारा बताये गये हुलिये से मिलता जुलता एक संदिग्ध युवक फुटेज में दिखाई दिया। फुटेज से प्राप्त हुलिये के आधार पर सुराग लगा कर अभियुक्त की तलाश कर गिरफ्तारी हेतु तलाश करते हुए तथा मुखबिर तंत्र को सक्रिय किया गया। जिसके फलस्वरूप मुखबिर की सूचना के आधार पर 1 दिसंबर को आईएसबीटी बस अड्डे के पास से अभियुक्त अक्षय कुमार पुत्र जोगेन्द्र निवासी गाँव चौदहड़ी तहसील देवबन्द थाना देवबन्द जिला सहारनपुर उम्र 21 वर्ष को गिरफ्तार किया गया। अभियुक्त की जामा तलाशी ली गयी तो गिरफ्तार अभियुक्त के कब्जे से घटना में प्रयुक्त 1 देशी तमंचा बरामद किया गया। अभियुक्त को समय से माननीय न्यायालय के समक्ष पेश किया जायेगा।

पूछताछ करने पर आरोपी अक्षय कुमार द्वारा बताया कि वह उक्त युवती से प्यार करता था और लगभग दो साल से हम एक दूसरे से बात करते थे। लगभग 5 माह पूर्व हमारे बीच विवाद हो गया था, जिस कारण लगभग 5 माह से उक्त युवती मुझसे बात नहीं कर रही थी। मैने कई बार उससे मिलकर बात करने का प्रयास किया लेकिन वो न तो मुझसे मिल रही थी और न ही मुझसे बात कर रही थी जिससे मुझे गुस्सा आ गया और मैने आवेश में आकर देशी तमंचा लेकर अपने दोस्त नकुल के साथ उसके घर बंजारावाला पहुंचा जहाँ वह मुझे घर के बाहर अपनी स्कूटी से आते हुए दिखी और मैने उससे बात करने की कोशिश की किन्तु वह मुझसे बात नही कर रही थी जिस कारण मैने गुस्से मे आकर उस पर देशी तमंचे से फायर कर दिया किन्तु वह बच गई और मै गोली चलाकर वहाँ से भाग गया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here