विधायक महेश नेगी प्रकरण पर बोली गरिमा, प्रदेश में सरकार चल रही है या सर्कस ?

0
315

विधायक महेश नेगी मामले में गरिमा महरा दसौनी ने सरकार के खिलाफ बोला हमला

देहरादून। कांग्रेस की पूर्व प्रदेश प्रवक्ता गरिमा महरा दसौनी ने भाजपा विधायक महेश नेगी प्रकरण को लेकर सरकार पर तीखा प्रहार किया है।

गरिमा दसौनी ने पुलिस प्रशासन द्वारा महिला के खिलाफ की गई चार्जसीट को दुर्भाग्यपूर्ण बताते हुए कहा कि सारे सबूत, साक्ष्य और गवाह इस बात की पुष्टि कर चुके है कि महेश नेगी द्वारा युवती का शोषण किया गया ऐसे में ना भाजपा संगठन द्वारा और ना ही पुलिस प्रशासन द्वारा महेश नेगी पर कोई भी दण्डनात्मक कार्रवाही ना करना भाजपा के असली चाल चरित्र चेहरे को बेनकाब करता है।

दसौनी ने मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र रावत, विधानसभा अध्यक्ष प्रेमचन्द्र अग्रवाल एवं भाजपा प्रदेश अध्यक्ष बंशीधर भगत पर सवाल खडे करते हुए कहा कि आखिर भाजपा के इन सभी दिग्गजों की चुप्पी क्या सिद्व करती है? पीडित महिला के बार-बार डीएनए टेस्ट की मांग को बतौर गृहमंत्री मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र रावत द्वारा अनदेखा किया जाना, तमाम आरोपों की पुष्टि होने के बावजूद विधानसभा अध्यक्ष प्रेमचन्द अग्रवाल द्वारा महेश नेगी को विधानसभा सदस्य के रूप में बर्खास्त ना करना तथा प्रदेश में संगठन के मुख्या के रूप में बंशीधर भगत के द्वारा कोई दण्डनात्मक कार्रवाही ना करना हतप्रभ करने वाला है।

दसौनी ने आगे कहा कि मात्र 15 घण्टे के अन्दर चार्जशीट को वापस लिये जाने का फैसला यह बताता है कि पुलिस प्रशासन इस प्रकरण पर शुरूआत से ही भारी दबाव में है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here