देहरादून: प्रशासन ने अवैध प्लाटिंग ध्वस्त की, सरकारी भूमि से भी कब्जा हटाया

0
76

देहरादून। प्रशासन ने अवैध प्लाटिंग के खिलाफ सख्त रुख अपनाते हुए बड़ी कार्यवाही की है। उप जिलाधिकारी डोईवाला को शिकायत मिला थी कि डोईवाला तहसील के ग्राम संगतियावाला में निजी भूमि के साथ ही सरकारी भूमि कुल लगभग 30 बीघा भूमि में कुछ भू माफियाओं द्वारा अवैध कब्जा करने तथा बिना अनुमति के प्लॉटिंग की शिकायत की गई थी। शिकायत का संज्ञान लेते हुए उप जिलाधिकारी डोईवाला शैलेंद्र सिंह नेगी, तहसीलदार मोहम्मद शादाब के नेतृत्व में राजस्व विभाग, पुलिस विभाग तथा नगर पालिका की संयुक्त टीम गठित कर मौका निरीक्षण एवं पैमाइश की गई।

निरीक्षण एवं पैमाइश में टीम द्वारा लगभग 10 बीघा राजकीय भूमि पर अवैध रूप से कब्जा कर प्लॉटिंग किया जाना पाया गया। मौके पर अवैध रूप से एक भवन, गेट, चार दिवारी तथा सीसी मार्ग का निर्माण भी कर दिया गया था। मौके पर उपस्थित कुछ लोगों द्वारा जानकारी दी गई कि प्रॉपर्टी डीलर्स तथा भूमि विक्रेताओं द्वारा सरकारी भूमि को निजी भूमि बताकर कुछ व्यक्तियों को विक्रय किया गया है। मौके पर कुछ लोगों द्वारा क्रय की गई भूमि पर चारदीवारी तथा कांटेदार बाड़ आदि की गई थी जिसे ध्वस्त कर दिया गया है तथा कब्जा हटा दिया गया है।

साथ ही टीम द्वारा राजकीय भूमि को चिन्हित करते हुए अवैध कब्जा हटाया गया है। मौके पर बने हुए अवैध भवन चारदीवारी, गेट तथा सीसी मार्ग को भी ध्वस्त कर दिया गया है। इस भूमि पर उप जिलाधिकारी डोईवाला द्वारा क्रय, विक्रय तथा निर्माण आदि पर अग्रिम आदेशों तक रोक लगा दी गई है तथा खतौनी में इसकी प्रविष्टि करने का आदेश तहसीलदार मोहम्मद शादाब को दिया गया है ताकि भूमि क्रय करने वाले अन्य लोग धोखाधड़ी से बच सकें। इसके साथ ही राजकीय भूमि पर अवैध रूप से कब्जा कर प्लॉटिंग करने वाले प्रॉपर्टी डीलर तथा निजी भूमि विक्रेता के विरुद्ध कोतवाली डोईवाला में प्राथमिकी दर्ज की जा रही है।

उप जिलाधिकारी एवं तहसीलदार डोईवाला मोहम्मद शादाब ने स्थानीय लोगों तथा भूमि क्रेताओं से अनुरोध किया है कि भूमि क्रय करने से पूर्व संबंधित प्रॉपर्टी डीलर या भूमि विक्रेता से मसूरी देहरादून विकास प्राधिकरण से स्वीकृत लेआउट की प्रति अनिवार्य रूप से प्राप्त कर ले। इसके साथ ही भूमि के राजस्व अभिलेखों तथा कब्जा आदि का परीक्षण अनिवार्य रूप से करवा लें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here