पश्चिम बंगाल में भाजपा के सभी 77 विधायकों को Y और X श्रेणी की सुरक्षा

0
142

77 में से 61 विधायकों के पास X लेवल सिक्योरिटी होगी। 15 विधायकों के लिए Y स्तर की सुरक्षा तैनात की जाएगी। नंदीग्राम निर्वाचन क्षेत्र में ममता बनर्जी को हराने वाले सुवेंदु अधिकारी को पहले केंद्र द्वारा ज़ेड-स्तरीय सुरक्षा दी गई थी।

नई दिल्ली। केंद्र ने विधानसभा चुनाव परिणामों के बाद पश्चिम बंगाल में हिंसा के मद्देनजर राज्य के सभी 77 भाजपा विधायकों को सुरक्षा प्रदान करने का फैसला किया है। इन सभी विधायकों को X लेवल सुरक्षा प्रदान की जाएगी। सुरक्षा दल में केंद्रीय औद्योगिक सुरक्षा बल (CISF) और केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल (CRPF) के कमांडो शामिल होंगे।

पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव के परिणाम 2 मई को घोषित किए गए थे। जिसके बाद से राज्य के कई हिस्सों में भाजपा एवं तृणमूल कांग्रेस कार्यकर्ताओं में जबरदस्त झडपों के कई मामले सामने आये थे। जिसके बाद केंद्र सरकार ने पश्चिम बंगाल में एक उच्च-स्तरीय समिति भेजी थी। समिति द्वारा गृह मंत्रालय को सूचित करने के बाद केंद्र सरकार से सभी भाजपा विधायकों को सुरक्षा प्रदान करने का निर्णय लिया।

77 में से 61 विधायकों के पास X लेवल सिक्योरिटी होगी। 15 विधायकों के लिए Y स्तर की सुरक्षा तैनात की जाएगी। नंदीग्राम निर्वाचन क्षेत्र में ममता बनर्जी को हराने वाले सुवेंदु अधिकारी को पहले केंद्र द्वारा ज़ेड-स्तरीय सुरक्षा दी गई थी।

X और Y ग्रेड सुरक्षा प्रणाली क्या होती है?
X केंद्र सरकार द्वारा प्रदान की जाने वाली सुरक्षा का सबसे निचला स्तर है। इसमें तीन से चार सशस्त्र कमांड होते हैं। वाई-स्तरीय सुरक्षा प्रणाली में, कमांड की संख्या 6 से 7 है। जेड-ग्रेड सुरक्षा में, संबंधित व्यक्ति की सुरक्षा के लिए 6 से 9 कमांडो तैनात किए जाते हैं। सुरक्षा दल में केंद्रीय औद्योगिक सुरक्षा बल (CISF) और केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल (CRPF) कमांडों शामिल होते हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here