मुस्लिम धर्मगुरु मौलाना कलीम सिद्दीकी गिरफ्तार, धर्मांतरण के लिए फंडिंग का आरोप

0
125

धर्मांतरण मामले में उत्तर प्रदेश ATS ने मौलाना कलीम सिद्दीकी को गिरफ्तार किया है. मौलाना कलीम सिद्दीकी ग्लोबल पीस सेंटर के अध्यक्ष हैं और जमीयत-ए-वलीउल्लाह के भी अध्यक्ष हैं। उनको देर रात मेरठ से गिरफ्तार किया गया है।

कुछ समय पहले मौलाना की संघ प्रमुख मोहन भागवत से मुलाकात काफी चर्चा में रही थी

लखनऊ। मशहूर इस्लामिक धर्मगुरू मौलाना कलीम सिद्दीकी को मंगलवार देर रात अवैध धर्मांतरण मामले में यूपी ATS ने गिरफ्तार किया है. मौलाना कलीम सिद्दीकी ग्लोबल पीस सेंटर के अध्यक्ष हैं और जमीयत-ए- वलीउल्लाह के भी अध्यक्ष हैं। उनको मेरठ से गिरफ्तार किया गया है. बता दें कि इस मामले में मुफ्ती काजी और उमर गौतम की गिरफ्तारी पहले ही हो चुकी है. दोनों से कलीम सिद्दीकी के लिंक मिले हैं. आरोप है कि विदेश से करोड़ों रुपये मौलाना कलीम सिद्दीकी के खाते में आए थे।

यूपी ATS ने बुधवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस कर बताया कि मौलाना कलीम सिद्दीकी पर हवाला के जरिए अवैध धर्मांतरण के लिए फंडिंग जुटाने का आरोप है। मौलाना कलीम को गिरफ्तार कर कोर्ट में पेश कर दिया गया है.
मौलाना कलीम सिद्दीकी पर आरोप है कि वह लालच देकर लोगों को धर्मांतरण के लिए उकसाते थे. वह अपना ट्रस्ट चलाने के साथ तमाम मदरसों को भी फंडिंग करते थे. मौलाना कलीम को विदेशों से भारी धनराशि हवाला और अवैध तरीके से भेजी जाती थी. उमर गौतम और मुफ्ती काजी से उसके लिंक जुड़े हैं। यूपी एटीएस के मुताबिक, मौलाना कलीम सिद्दीकी के खाते में 1.5 करोड़ रुपये बहरीन से आए थे. उनके अकाउंट में कुल 3 करोड़ रुपये आए थे।

यूपी ADG प्रशांत कुमार ने बताया कि 20 जून को अवैध धर्मांतरण गिरोह संचालित करने वाले लोग गिरफ्तार किए गए थे. उमर गौतम और इनके साथियों को ब्रिटिश आधारित संस्था से लगभग 57 करोड़ रुपये की फंडिंग की गई थी। जिसके खर्च का ब्योरा यह लोग नहीं दे पाए. आगे बताया गया कि इस संबंध में मौलाना कलीम को छोड़कर कुल 10 लोग गिरफ्तार हुए थे जिसमें से 6 के खिलाफ चार्जशीट दाखिल की जा चुकी है और 4 के खिलाफ जांच चल रही है।

वही सहारनपुर लोकसभा सीट से बसपा सांसद हाजी फजलुर्रहमान ने मौलाना की गिरफ्तारी को राजनीतिक हथकंडा बताया है। फजलुर रहमान ने भाजपा सरकार पर आरोप लगाते हुए कहा कि यह भाजपा का विधानसभा चुनाव जीतने का हथकंडा है। सांसद ने कहा कि, चूंकि भाजपा सरकार से हर वर्ग त्रस्त है इसीलिए भाजपा प्रदेश में भय और दहशत का माहौल पैदा कर रही है। और उसने चुनाव जीतने के लिए मौलाना की गिरफ्तारी का यह हथकंडा अपनाया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here