मेडिकल कॉलेज में जूनियर छात्रों से रैगिंग करने वाले 7 छात्र 3 महीने के लिए सस्पेंड

0
14

देहरादून। प्रदेश के एक मेडिकल कॉलेज में जूनियर छात्रों से रैंगिग करने का मामला सामने आने के बाद सात सीनियर छात्रों को तीन महीने के लिए सस्पेंड कर दिया गया है। पूरा मामला श्रीनगर मेडिकल कॉलेज से जुड़ा हुआ है। जहां MBBS की पढ़ाई करने वाले 7 सीनियर्स पर 40 जूनियर स्टूडेंट्स की रैगिंग करने के आरोपों की पुष्टि के बाद प्रिंसिपल ने 7 स्टूडेंट्स को सस्पेंड कर दिया। इन पर आरोप है कि 11 नवंबर की रात के समय जूनियर्स को जबरन कपड़े उतरवाकर ठंड में हॉस्टल की टेरिस में खड़ा करवाया था।इस तरह की रैगिंग का मामला तब प्रकाश में आया जब एक स्टूडेंट पेरेंट्स ने पुलिस प्रशासन से इसकी शिकायत की, इसके बाद कई जूनियर्स ने यह बात बताई। कॉलेज की फैक्ट फाइंडिंग कमेटी में जूनियर्स के फैक्ट को सही पाया गया।

प्रिंसिपल रावत ने बताया कि 40 जूनियर एमबीबीएस स्टूडेंस को बुलाकर उनका लिखित बयान लिया गया। फिर उनके वर्जन को क्रॉसचेक किया गया। जिन 7 सीनियर स्टूडेंट्स का नाम सामने आया, उनके साथ पहले भी अनुशासन की समस्या रही है। जूनियर्स के साथ उनकी कुछ बातचीत को भी जुटाया गया। सभी पहलुओं को जोड़ने पर कमिटी ने निष्कर्ष निकाला और फिर ऐक्शन लिया गया। 7 आरोपी स्टूडेंट्स को अगले 3 महीने तक सभी अकैडमिक सेशन्स से दूर रखा जाएगा। फिर मेडिकल कॉलेज में पढ़ाई को जारी रखने की इजाजत देने से पहले उनके बिहेवियर को परखा जाएगा। सभी स्टूडेंट्स के लिए यह स्पष्ट संदेश है कि ऐसी हरकतों को बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। नए बैच ने अभी जॉइन ही किया है और उन्हें परेशान करने वालों को बख्शा नहीं जाएगा।’

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here