चुनावी सभाओं को लेकर सरकार की हो रही किरकिरी, बीते 24 घंटों में संक्रमण ने तोड़े सारे रिकॉर्ड

0
380

नई दिल्ली। केन्द्र सरकार में बढ़ते कोरोना संकट के बीच लॉकडाउन लगाए जाने को लेकर गंभीर मंत्रणा शुरू हो गई है। खबर आ रही है कि पांच राज्यों के विधानसभा चुनाव व हरिद्वार में कुंभ के बाद संक्रमण के मामले तेजी से बढ़े हैं। जिसको लेकर केन्द्र सरकार की किरकिरी हो रही है। मोदी सरकार के मंत्री पूरे देश में लॉकडाउन लगाने की सलाह दे रहे हैं। खबर यह भी है कि लगभग 15 दिनों बाद पूरे देश में एक साथ लॉकडाउन लगाया जा सकता है। कोरोना संक्रमण ने देश ही नहीं पूरी दुनिया की अर्थव्यवस्था पर बूरा प्रभाव डाला है। देश की अर्थव्यवस्था पूरी तरह चरमरा गई है।

वहीं हरिद्वार के कुंभ मेले को अब खत्म किया जा सकता है। कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने खुद साधु-संतों से अपील की है कि अब कुंभ को प्रतीकात्मक रखा जाए। मोदी ने महामंडलेश्वर स्वामी अवधेशानंद गिरी से फोन पर बातचीत भी की।

प्रधानमंत्री से बातचीत के बाद जूना अखाड़ा के महामंडलेश्वर स्वामी अवधेशानंद गिरी ने भी सोशल मीडिया पर इसकी जानकारी शेयर की। उन्होंने लिखा, ‘माननीय प्रधानमंत्री जी के आह्वान का हम सम्मान करते हैं। स्वयं एवं अन्य के जीवन की रक्षा महत्वपूर्ण है। मेरा धर्म परायण जनता से आग्रह है कि कोविड की परिस्थितियों को देखते हुए कोरोना के नियमों का निर्वहन करें।’ पश्चिम बंगाल, असम, केरल, तमिलनाडु व पुडुचेरी में हो रहे विधानसभा चुनाव कोरोना संक्रमण को दावत देता दिख रहा है। इन राज्यों में हो रहे विधानसभा चुनावों के दौरान राजनीतिक पार्टियों द्वारा लाखों की संख्या में भीड़ ईकट्ठा कर रैलियां व सभाएं की जा रही है। जो गंभीर समस्या बनती जा रही है।

कोरोना की दूसरी लहर पहली की तुलना में ज्यादा खतरनाक साबित हो रही है। यह लोगों को ज्यादा तेजी से चपेट में ले रही है। साथ ही इस दौरान लोगों को जल्दी ही ऑक्सीजन की कमी महसूस हो रही है। अस्पतालों में भी ऑक्सीजन की भारी किल्लत सामने आ रही है। रेमडेसिविर इंजेक्शन बनाने वाली देश की बड़ी फार्मा कंपनी डॉ. रेड्डीज ने बताया कि अभी रेमडेसिविर इंजेक्शन आउट ऑफ स्टॉक है। इसके उत्पादन को बढ़ाने पर पूरा फोकस किया जा रहा है। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ. हर्षवर्धन ने भी कहा कि रेमडेसिविर इंजेक्शन तैयार करने वाली सभी फार्मा कंपनियों को उत्पादन बढ़ाने के लिए कहा गया है। उन्होंने कहा कि दवाइयों और इंजेक्शन का ब्लैक मार्केटिंग करने वालों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी।

स्वास्थ्य मंत्रालय की ओर से जारी किए गए ताजा आंकड़ों के मुताबिक, देश में बीते 24 घंटों में सर्वाधिक रिकॉर्ड 2,74,944 नए कोरोना मरीज सामने आए हैं, इसी के साथ देश में संक्रमित मरीजों की कुल संख्या बढ़कर 1,50,56,967 पहुंच गए हैं। वहीं बीते 24 घंटों में 1625 लोगों ने कोरोना की वजह से दम तोड़ दिया, इसी के साथ कोविड से मरने वालों की संख्या 1 लाख 78 हजार 769 हो गई। महामारी के दस्तक देने से लेकर अब तक एक दिन में मिले नए कोरोना मरीजों की यह सर्वाधिक संख्या है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here