दुखद: गुलदार ने हमला कर युवती को मार डाला, 25 जनवरी को होनी थी शादी

0
2322

देहरादून। प्रदेश में एक बार फिर एक मानव वन्यजीव संघर्ष की घटना सामने आई है। जिसमें बाघ ने युवती पर हमला कर उसे मौत के घाट उतार दिया। घटना कॉर्बेट टाइगर रिजर्व की सीमा से सटे अमानगढ़ रेंज की है। बताया जा रहा है कि मृतक युवती की शादी 25 जनवरी को होने वाली थी,लेकिन उससे पहले ही वह आदमखोर बाघ का शिकार हो गई।

जानकारी के मुताबिक कॉर्बेट टाइगर रिजर्व से सटे अमानगढ़ रेंज के झोलू खत्ते में कुछ गुर्जर परिवार रहते हैं। इनमे से मासूम अली नामक गुर्जर की पुत्री सुपुरा को बाघ ने हमला कर उसे मौत के घाट उतार दिया। सुपुरा का विवाह 25 जनवरी को होना था।लेकिन अपने विवाह से दस दिन पहले ही वह बाघ का निवाला बन गई।इस घटना के बाद से खत्ते के सभी गुर्जर परिवार गम और गुस्से में हैं। घटना के बाद प्रशासन द्वारा सुपुरा के शव को कब्जे में लेकर उसका पोस्टमार्टम करने के बाद शव को परिजनों को सौप दिया गया। स्थानीय ग्रामीणों ने वन विभाग से आदमखोर बाघ को पकड़ने की मांग की है।

देहरादून। रविवार देर शाम राजपुर थाना क्षेत्र के जाखन सोंधोवली में किए गए तेंदुए के हमले में घायल 12 वर्षीय बालक निखिल की हालत खतरे से बाहर है। दून मेडिकल कॉलेज के जनसंपर्क अधिकारी डॉ महेंद्र भंडारी ने बताया कि बालक का सीटी स्कैन किया गया है तथा मरहम पट्टी करने के बाद बालक को वार्ड में भर्ती किया गया है। जिसकी हालत खतरे से बाहर है।

उधर वन विभाग की टीम ने रात भर तेंदुए की तलाश में सघन कांबिंग अभियान चलाया परंतु सफलता नहीं मिल पाई। सुबह तड़के पांच बजे लगभग तेंदुआ आईटी पार्क के पीछे धोरण में घूमता हुआ देखा गया है है। जहां एक सीसीटीवी कैमरे में उसकी फोटो कैद हो गई है। वन विभाग के जितेंद्र बिष्ट ने बताया कि आज तेंदुए की तलाश में आसपास के आईटी पार्क, सिद्धार्थ कालेज, डांडा आदि क्षेत्र में भी अभियान चलाया जाएगा। साथ ही तेंदुआ को ढूंढने के लिए ड्रोन का भी सहारा लिया जाएगा। प्रदेश के कैबिनेट मंत्री गणेश जोशी भी घायल बालक को देखने के लिए दो अस्पताल जाएंगे।

देहरादून। राजधानी के आसपास के इलाकों में आजकल बाघ तेंदुओं का आतंक खूब देखने को मिल रहा है। जहां कहां बाघ और तेंदुए देखे जाने की सूचना मिलती रहती है। रविवार को देर शाम सोंधोवाली क्षेत्र में एक तेंदुए ने 12 वर्षीय बालक को हमला कर घायल कर दिया है।

दून विहार के निवर्तमान पार्षद संजय नौटियाल ने जानकारी देते हुए बताया कि चार-पांच बच्चे आज सेंट जेवियर स्कूल के पीछे वाली साईड में सोंधोवाली के पास नदी किनारे आग जलाकर खेल रहे थे कि तभी एक बच्चे के ऊपर तेंदुए ने पीछे से हमला कर दिया। तेंदुए के हमले से घबराए बच्चे चीखने चिल्लाने लगे। शोर शराबा सुनकर क्षेत्रीय लोग उस तरफ दौड़े लोगों को आता देख तेदुआ जंगल की तरफ भाग गया। हमले में 12 वर्षीय बालक निखिल पुत्र शेर बहादुर निवासी कंडोली जख्मी हो गया। घायल निखिल को जख्मी हालत में 108 एंबुलेंस के माध्यम से दून अस्पताल में भर्ती कराया गया है। जहां डॉक्टरों ने उसका उपचार शुरु कर दिया है।

वहीं सूचना मिलते ही रायपुर वन प्रभाग से वन विभाग की टीम ने मौके पर पहुंचकर तेंदुए की तलाश शुरू कर दी है। मौके पर मौजूद जितेन्द्र बिष्ट ने जानकारी देते हुए बताया कि तेंदुए को पकड़ने के लिए पिंजरा लगाया गया है साथ ही पूरे क्षेत्र में सर्चिंग अभियान चलाया जा रहा है। उन्होंने क्षेत्र के लोगों से सावधानी बरतने की अपील की है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here