DGP साहब ने कार्यभार ग्रहण करने के बाद बताई प्राथमिकताएं

0
532

देहरादून। प्रदेश के पुलिस महानिदेशक अभिनव कुमार ने पुलिस महानिदेशक, उत्तराखण्ड का पदभार ग्रहण कर लिया। पदभार ग्रहण करने के बाद मीडिया को ब्रीफ करते हुए उन्होंने अपनी प्राथमिकताएं बताई है।

 हमारा उत्तराखंड पुलिस का ध्येय है मित्रता, सेवा, सुरक्षा। मित्रता केवल सभ्य नागरिकों के लिए है। अपराधियों के लिए हम हमेशा काल बनके रहेंगे।

 उत्तराखंड शांत प्रदेश है। सुदृढ़ कानून व्यवस्था प्रदेश की पहचान है, इसलिए कानून व्यवस्था के मोर्चे पर कोई रियायत नहीं बरती जाएगी।

 ट्रेडिशनल पुलिसिंग के सिद्धांतों एवं सिखलाई को बरकरार रखते हुए नई चुनौतियों से डटकर सामना करेंगे।

 माननीय मुख्यमंत्री जी के नशामुक्त उत्तराखण्ड मिशन के तहत ड्रग्स के विरूद्ध कार्यवाही को और अधिक प्रभावी करना हमारी प्राथमिकता होगी।

 प्रदेश के प्राकृतिक रूप व आपदा की दृष्टि से संवदेनशील होने के दृष्टिगत हम अपनी First Responder की क्षमता को और अधिक बेहतर बनाएंगे।

 स्थानीय जनता के साथ ही उत्तराखण्ड आने वाले पर्यटकों एवं तीर्थयात्रियों के साथ मित्रवत व्यवहार करके उनके लिए सुगम व्यवस्था बनाने पर जोर दिया जाएगा।

 बढ़ते साइबर क्राइम पर रोकथाम लगाएंगे। महिला संबंधी अपराधों के सम्बन्ध में संवेदनशीलता बढ़ायी जाएगी। इसके लिए हर स्तर के अधिकारी/कर्मचारियों को प्रशिक्षित करेंगे।
 पुलिसकर्मियों के कल्याण पर भी जोर रहेगा। उनके हाउसिंग, स्वास्थ्य, बच्चों की अच्छे शिक्षा सभी मेरी प्राथमिकताएं रहेंगी।

देहरादून। अभिनव कुमार ने आज उत्तराखण्ड पुलिस के पुलिस महानिदेशक के रूप में कार्यभार ग्रहण किया।

“अस्तित्व टाइम्स” परिवार अभिनव कुमार जी को पुलिस के प्रमुख के रूप में नियुक्त होने पर बधाई देता है।

देहरादून। उत्तराखण्ड के वर्तमान पुलिस महानिदेशक अशोक कुमार, (आई०पी०एस०-आर0आर0-1989) के अधिवर्षता आयु पूर्ण करने पर दिनांक 30.11.2023 के अपरान्ह से सेवानिवृत्त होने के दृष्टिगत अभिनव कुमार (आई०पी०एस०आर०आर०-1996), अपर पुलिस महानिदेशक, अभिसूचना एवं सुरक्षा, उत्तराखण्ड को दिनांक 01.12.2023 से वर्तमान पदभार के साथ-साथ अग्रिम आदेशों तक पुलिस महानिदेशक, उत्तराखण्ड के पद का अतिरिक्त प्रभार प्रदान किये जाने का निर्णय लिया गया है।

1996 बैच के आईपीएस अधिकारी अभिनव कुमार की गिनती के असरदार पुलिस अफसरो में होती है। फिलहाल उन्हें अग्रिम आदेशों तक अपर पुलिस महानिदेशक अभिसूचना सूचना एवं सुरक्षा के साथ ही डीजीपी का कार्यभार भी देखना होगा। आपको बता दे कि अभिनव कुमार की गिनती मुख्यमंत्री के करीबियों में होती है। ऐसे में पूर्व में ही माना जा रहा था कि अभिनव कुमार को सरकार डीजीपी का दायित्व दे सकती है।आपके बता दें कि उत्तराखंड के डीजीपी अशोक कुमार की सेवानिवृत्ति को एक दिन शेष है,यानी 30 नवंबर को अशोक कुमार सेवानिवृत हो रहे हैं, इसके साथ ही अभिनव कुमार 30 नवंबर को चार्ज लेंगे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here