सिरफिरे आशिक ने अपनी प्रेमिका के दो बच्चों को गंगनहर में फेंका

0
266

देहरादून। हरिद्वार जिले के मंगलौर कोतवाली क्षेत्र के दाहियाकी गांव में किराए पर प्रेमिका के साथ रह रहे एक शख्स ने उसके दो बच्चों को गंगनहर में फेंक दिया। मामले का पता तब चला, जब महिला को बच्चे घर पर नहीं दिखे। उसने पूछताछ की तो पता चला कि वो उसके प्रेमी लाखन के साथ थे। उसने पुलिस को आपबीती सुनाई। इसपर पुलिस ने शख्स के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर गिरफ्तार कर लिया। इस दौरान पता चला कि उसने बच्चों को गंगनहर में फेंक दिया। खोजबीन में पुलिस को एक बच्चे का शव बरामद हुआ है।

जानकारी के अनुसार मंगलौर गांव के उल्हेड़ा निवासी एक महिला के पति की साल 2019 में मौत हो गई थी। इसके बाद वो अपने दो बच्चों के साथ रह रही थी। करीब एक साल पहले उसकी मुलाकात सहारनपुर के थाना देवबंद के साखन खुर्द गांव निवासी लाखन से हुई। उनके बीच बातचीत शुरू हुई, जो फिर प्यार में बदल गई।

दोनों फिर बच्चों के साथ मंगलौर के दाहियाकी गांव में साथ रहने लगे। महिला शनिवार को फैक्ट्री में काम करने के लिए घर से निकल गई। बाद में जब वो घर लौट कर आई तो उसके दोनों बच्चे गायब थे। उसने आसपास पूछताछ की तो पता चला कि वे लाखन के साथ थे। इसपर महिला को शक हुआ और वो तहरीर देने के लिए पुलिस के पास पहुंच गई। पुलिस को उसने पूरी आपबीती सुनाई।

पुलिस ने महिला की तहरीर पर लाखन को हिरासत में ले लिया और उससे पूछताछ की। इस दौरान उसने बताया कि वो दोनों बच्चों को शनिवार तीन बजे अपने साथ ले गया था और उसने उन्हें गंगनहर में फेंक दिया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here