बिजली पानी के बिल माफ कर जनता को राहत प्रदान करे सरकार: तिवारी

0
159

देहरादून। उत्तराखंड परिवर्तन पार्टी ने कोरोना महामारी में कामगारों, प्रवासियों एवं गरीबों की बिगड़ती आर्थिक, सामाजिक स्थितियों को लेकर अल्मोडा स्थित पार्टी कार्यालय में प्रदर्शन किया और सरकार से प्रवासियों, मज़दूरों के लिए सम्मानजनक काम की व्यवस्था करने, मनरेगा में साल भर काम देने एवं बिजली, पानी के बिल माफ करने की मांग की।

“ठप्प मज़दूरी, बंद रोज़गार,
कामगारों की ज़िम्मेदारी ले सरकार” के प्रदेश व्यापी आह्वान के दौरान विचार व्यक्त करते हुए उपपा के केंद्रीय अध्यक्ष पी. सी. तिवारी ने कहा कि महामारी के इस दौर में जहां एक ओर देश के प्रधानमंत्री, मंत्रियों व राष्ट्रपति के लिए हज़ारों करोड़ रुपए के नए घर बनाए जा रहे हैं वहीं दूसरी तरफ कामगारों, प्रवासियों, गरीबों के साथ रोजी रोटी का गंभीर सवाल पैदा हो गया है। उन्होंने कहा कि देश के हर ज़रूरतमंद नागरिक की मदद करना सरकार की ज़िम्मेदारी है परन्तु सरकार इस ओर ध्यान नहीं दे रही है।

अपनी मांगों के पोस्टरों के साथ आयोजित इस धरना कार्यक्रम में पार्टी ने आरोप लगाया है कि महामारी एवं अभाव के कारण लोगों के सामने गंभीर समस्याएं पैदा हो गई हैं। पार्टी ने कहा कि केंद्र व राज्य सरकार की अदूरदर्शिता, हवाई घोषणाओं के चलते ये स्थितियां बनी हैं। राष्ट्रीय आपदा की इस स्थिति में सरकार को सभी तरह के फ़िज़ूल ख़र्च बंद कर महामारी से मुक्ति एवं लोगों के जीवन की रक्षा के उपायों पर ध्यान देना चाहिए।

उपपा ने कहा कि कर्फ्यू व लॉकडाउन के दौरान छोटे मोटे व्यवसायियों के पानी, बिजली के बिल माफ करने के साथ सभी कामगारों, प्रवासियों के लिए रोज़गार की व्यवस्था करने, मनरेगा के अंतर्गत साल भर रोज़गार देने, हर गरीब, बेसहारा परिवार को 6000 रुपए की न्यूनतम मदद पहुंचाने की मांग की। इस प्रदर्शन में पार्टी के गोपाल राम, राजू गिरी, श्रीमती हेमा पांडे, उत्तराखंड छात्र संगठन की भारती पांडे समेत अन्य लोग मौजूद रहे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here