चौथी तिमाही में बैंक ऑफ इंडिया को हुआ 250 करोड़ रुपये का शुद्ध लाभ

0
262

देहरादून। सार्वजनिक क्षेत्र के बैंक ऑफ इंडिया ने 31 मार्च, 2021 को समाप्त तिमाही में 250.19 करोड़ रुपये का शुद्ध लाभ दर्ज किया है।

बैंक ने एक साल पहले की अवधि में 3,571.41 करोड़ रुपये का शुद्ध घाटा दर्ज किया था।
मार्च तिमाही 2020-21 के दौरान कुल आय 11,379.84 करोड़ रुपये रही, जो एक साल पहले की समान अवधि में 12,215.78 करोड़ रुपये थी।

देहारादून अंचल के आंचलिक प्रबंधक जय नारायन ने बताया की बैंक ने पिछले वित्तीय वर्ष मे रु 2,956.89 करोड़ रुपये के शुद्ध हानि के मुकाबले वित्तीय वर्ष 2020-21 मे रु 2,160.30 करोड़ रुपये का शुद्ध लाभ दर्ज किया है।

वित्तीय वर्ष 2020-21 में आय घटकर 48,040.93 करोड़ रुपये रह गई, जोकि पिछले वित्तीय वर्ष मे 49,066.33 करोड़ रुपये थी।

मार्च 2021 के अंत मे सकल गैर-निष्पादित परिसंपत्तियों (एनपीए) में सुधार हुआ, जो सकल अग्रिमों का 13.77 प्रतिशत रहा, जबकि एक साल पहले की अवधि में यह 14.78 प्रतिशत था।
मूल्य के संदर्भ में, बैड लोन रु 61,549.93 करोड़ रुपये से गिरकर रु 56,534.95 करोड़ रुपये हो गया।
शुद्ध एनपीए 3.88 प्रतिशत (14,320.10 करोड़ रुपये) से घटकर 3.35 प्रतिशत (12,262.03 करोड़ रुपये) हो गया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here