स्वतंत्रता दिवस पर मुख्यमंत्री ने किया ध्वजारोहण, खोला घोषणाओं का पिटारा

0
281

देहरादून। देशभर के साथ ही उत्तराखंड में भी स्वतंत्रता दिवस हर्षोल्लास से मनाया जा रहा है। आजादी के ‘अमृत महोत्सव’ के रूप में मनाये जा रहे 75वें स्वतंत्रता दिवस के अवसर पर मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने पुलिस लाइन में आयोजित मुख्य कार्यक्रम में ध्वजारोहण किया। इस दौरान उन्होंने प्रदेशवासियों को स्वतंत्रता दिवस की बधाई दी। सीएम धामी ने केंद्र और राज्य सरकार की उपलब्धियां गिनवाईं। सीएम धामी पुलिस कर्मियों, खिलाड़ियों, कोरोना योद्धाओं और प्रबुद्ध नागरिकों को भी सम्मानित किया।

इससे पहले उन्होंने मुख्यमंत्री आवास और भाजपा प्रदेश कार्यालय में भी ध्वजारोहण कर राष्ट्रीय एकता की शपथ दिलाई।

सीएम द्वारा की गई घोषणाएं

भाजपा के वरिष्ठ नेता मनोहरकांत ध्यानी की अध्यक्षता में कमेठी करेगी देवस्थानम बोर्ड को लेकर रिपोर्ट तैयार। साथ ही तीर्थ पुरोहितों से भी कमेठी करेगी विचार।

प्रदेश के सरकारी स्कूलों के 10वीं और 12वीं के छात्र-छात्राओं को मिलेगा निशुल्क मोबाइल टेबलेट।

दिवंगत पर्यावरणविद सुंदर लाल बहुगुणा के नाम पर सुंदर लाल बहुगुणा प्रकृति संरक्षण पुरस्कार की घोषणा की।

प्रदेश में जनसंख्या नियंत्रण पर बनेगा प्रभावी कानून। उपसमिति बनाकर इस विषय पर लिए जाएंगे सुझाव।

भू-कानून बनाने को लेकर उच्च स्तरीय कमेटी बनाने की घोषणा की।

प्रदेश में राज्य भाषा एवं संस्कृति अकादमी की होगी स्थापना।

अतिथि शिक्षकों का वेतन 15 हजार से बढ़ाकर 25 हजार किया गया।

प्रदेश में पलायन रोकने के लिए हिम प्रहरी योजना शुरू होगी।

पौड़ी और अल्मोड़ा को रेल लाइन से जोड़ने की संभावना तलाशी जाएगी। इस मसले पर मुख्यमंत्री जल्द ही प्रधानमंत्री से मिलेंगे।

इज ऑफ डूइंग बिजनेस की शुरुआत हुई।

स्पोर्ट्स कॉलेज रायपुर को शारीरिक शिक्षा का विश्वविद्यालय बनाने की योजना।

25 हजारों लोगों के लिए मकान बनाने की व्यवस्था करने की योजना।

बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ स्लोगन के तहत महालक्ष्मी किट योजना शुरू की।

मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने स्वतंत्रता दिवस के अवसर पर पुलिस लाइन में आयोजित कार्यक्रम के दौरान इन्हें प्रदान किया पुरस्कार:

मुख्यमंत्री सराहनीय सेवा से पुलिस उपाधीक्षक पिथौरागढ़ राजेंद्र सिंह रौतेला, 40 वीं वाहिनी पीएसी के भगवती प्रसाद पंत

विशिष्ट कार्य के लिए पुलिस उपाधीक्षक साइबर थाना देहरादून अंकुश मिश्रा और एसटीएफ के एसआई उमेश कुमार को पुरस्कृत किया।

इसके अलावा खेलों में बेहतर प्रदर्शन के लिए हॉकी खिलाड़ी वंदना कटारिया, अनिरुद्ध थापा, निवेदिता और खेल प्रशिक्षक के रूप में अनूप बिष्ट को पुरस्कृत किया। वंदना के कार्यक्रम स्थल पर मौजूद ना होने पर उनका पुरस्कार उनके भाई सौरभ कटारिया को दिया गया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here