उत्तर प्रदेश और उत्तराखंड में पराजय की स्थिति देख भाजपा करा सकती है EVM में गड़बड़ी: हरीश रावत

0
209

देहरादून। उत्तराखंड में विधानसभा चुनाव के लिए वोटिंग हो चुकी है। वोटिंग के बाद से ही सभी दल अपनी-अपनी जीत का दावा कर रहे हैं। प्रदेश के मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी जहां भाजपा को 60 सीटें मिलने का दावा कर रहे हैं तो कांग्रेसी नेता भी पार्टी को 48 सीटों पर जीत का दावा कर रहे हैं। इस बीच पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत ने चुनावी परिणाम को लेकर बड़ा बयान दिया है। उन्‍होंने कहा कि उत्तर प्रदेश और उत्तराखंड में भाजपा की पराजय वाली स्थिति है, इसलिए ईवीएम के साथ छेड़छाड़ की संभावना है। साथ ही कहा कि सरकार द्वारा ईवीएम मशीन के साथ मतपत्र को भी बदला जा सकता है। हरदा के इस बयान से प्रदेश की राजनीति में भूचाल आ गया है।

मीडिया रिपोर्टस के अनुसार उत्तराखंड में इस बार 65.37 फीसदी वोटिंग हुई है। वोटिंग के बाद से ही सभी दलों में घमासान मच गया है। कांग्रेस में जहां सीएम चेहरे को लेकर विवाद सामने आ रहा है। वहीं हरिद्वार जिले की लक्सर विधानसभा सीट से भाजपा प्रत्याशी संजय गुप्ता ने खुलकर पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष मदन कौशिक पर उन्हें हरवाने का आरोप लगाया है। गुप्ता ने वीडियो जारी कर मदन को गद्दार बताने के साथ ही पार्टी हाईकमान से उन्हें निष्कासित करने की मांग की है। बुधवार को हरिद्वार जिले के चार भाजपा पदाधिकारियों पर पार्टी ने गाज गिराई है। सूत्र बता रहे हैं कि भाजपा में जमकर भितरघात हुआ है। कुमाऊं के भी दो भाजपा प्रत्याशियों ने अपने साथ भितरघात का खुलकर आरोप लगाया है। अब उत्तराखंड में सत्ता पर कौन आएगा ये तो 10 मार्च को ही पता चलेगा। लेकिन जब तक रिजल्ट नहीं आ जाता है तब तक बवाल चलता रहेगा।

आपको बता दें कि उत्तराखंड में कांग्रेस अगर सत्ता में आई, तो मुख्यमंत्री कौन होगा? इस सवाल पर राज्यसभा सांसद प्रदीप टम्टा ने खुलकर हरीश रावत के नाम का ऐलान कर दिया है। मीडिया से बातचीत करते हुए टम्टा ने कहा, ‘लड़ाई में जो सेनापति होता है, हार और जीत की ज़िम्मेदारी उसी की होती है। इस चुनाव में कांग्रेस के कमांडर इन चीफ हरीश रावत थे और हैं। कांग्रेस जीतकर सरकार बना रही है, तो ताज भी उनके सिर पर ही सजेगा। मुझे नहीं लगता कि कांग्रेस में कोई विवाद है कि हरीश रावत के अलावा कोई और विकल्प हो भी सकता है।’ हालांकि मुख्यमंत्री बनने के मुद्दे पर प्रीतम सिंह का बयान भी सामने आया है। जिसमें प्रीतम सिंह ने कहा है कि बहुमत मिलने पर विधायक दल की बैठक में फैसला होगा कि कौन मुख्यमंत्री होगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here