महिला की मौत से दुखी पति एवं पुत्र ने किया ज़हरीले पदार्थ का सेवन, इलाज के दौरान दोनों की मौत

0
88

देहरादून। हरिद्वार जिले से दर्दनाक खबर सामने आई है यहां भगवानपुर के सरठेडी गांव में एक ग्रामीण ने अपने नाबालिग बेटे के साथ जहरीले पदार्थ का सेवन कर जीवन लीला समाप्त कर ली। अस्पताल में उपचार के दौरान दोनों की मौत हो गई, पुलिस ने शव कब्जे में लेकर मामले की जांच शुरू कर दी है। बताया जा रहा है कि पिछले महीने ग्रामीण की पत्नी की हार्टअटैक से मौत हो गई थी। इसी बात से वह परेशान था। आत्महत्या को इसी से जोड़कर देखा जा रहा है। वहीं पुलिस मामले की छानबीन कर रही है।

प्राप्त जानकारी के मुताबिक भगवानपुर थाना क्षेत्र के सरठेडी गांव निवासी जोगिंदर (40) दिव्यांग था तथा हलवाई का काम करता था। करीब 20 दिन पहले जोगेंद्र की पत्नी को हार्ट अटैक आ गया था। इसी दौरान उसकी मौत हो गई थी। पत्नी की मौत के बाद से जोगेंद्र और उसका बेटा शिवम (15) काफी दुखी एवं उदास रहने लगे थे।

शनिवार देर शाम जोगेंद्र ने अपने बेटे शिवम को घर में रखे कीटनाशक का सेवन कराया। इसके बाद उसने खुद भी कीटनाशक का सेवन कर लिया। जिसके बाद दोनों की तबीयत बिगड़ गई। इसी बीच परिवार के कुछ लोगों को जब इसका पता चला तो उनके होश उड़ गए। आनन-फानन में उन्हें रुड़की के एक निजी अस्पताल में ले जाया गया। जहां पर देर रात उपचार के दौरान पिता-पुत्र की मौत हो गई। घटना की सूचना भगवानपुर थाना पुलिस को भी दी गई। पुलिस ने दोनों का शव को कब्जे में ले लिया है।

भगवानपुर थाना प्रभारी निरीक्षक के मुताबिक दो सप्ताह पहले जोगिंदर की पत्नी की मौत हो गई थी। इसी बात से वह काफी परेशान था। उन्होंने आशंका जताई है कि इसी बात के चलते जोगिंदर और उसके बेटे ने यह कदम उठाया है हालांकि मामले की जांच की जा रही है। वही मृतक के परिजन भी इसी तरह की आशंका जता रहे हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here